Skip to main content

अमेरिका के इतिहास ही रोमांचक कहानी

अमेरिका के इतिहास ही रोमांचक कहानी




अमेरिका का इतिहास भारत के इतिहास जैसा पुराना नही है। भले ही हज़ारो साल पहले मानव ने अमेरिका पर बसना शुरू कर दिया था पर फिर भी इसके इतिहास की शुरुआत 1492 से की जाती है। जब कॉलोम्बस ने भारत के खोजने के प्रयास में अमेरिका की खोज के डाली थी। सन 1492 ईसवीं में कॉलोम्बस भारत से यूरोप जाने वाला समुंद्री रास्ता खोजने निकल पडा। उसे पूरा विश्वास था कि पृथ्वी गोल है और पश्चिम की तरफ समुन्द्र के रास्ते जाने से भारत पहुँचा जा सकता है पर उस समय कॉलम्बोस समेत यूरोपियन लोगों को इस बात की जानकारी नही थी की पृथ्वी पर यूरोप,एशिया जैसे और भी बड़े बड़े महाद्वीप मौजूद है।




समुद्री यात्रा करते हुए कॉलम्बोस जब अमेरिकी महाद्वीप के पास स्थित द्वीप पर पहुँचा तब उसे लगा की वो भारत के पास किसी द्वीप पर पहुंच गया है। बाद में उसने कई और द्वीपो पर भी यात्रा की जहा पर उसे कई आदिवासी मिले जो थोड़े लाल रंग के थे। कॉलम्बोस ने उन्हें भारतीय समझ कर रेड इंडियन नाम दे दिया। रेड इंडियन लोग ही अमेरिका के मूल निवासी कहलाए। जब कॉलोम्बस ने स्पेन जाकर बताया कि उसने भारत की खोज कर ली है तो यह बात आग की तरह पूरे यूरोप में फ़ैल गयी इसके बाद कई और यूरोपीय देश के लोग समुन्द्र के रस्ते भारत पहुँचने के आतूर थे।


कहानी में मोड़ तब आया जब अमेरिगो वेस्ट पोची नमक के एक खोजी यात्री ने यह बताया कि कॉलम्बोस ने जिस भूभागों को खोज था वह भारत नही बल्कि नए प्रदेश है। अमेरिगो वेस्ट पोची के नाम पर ही इन द्वीपो का नाम अमेरिका पद गया जो बाद में उत्तरी और दक्षिणी अमेरिका कहलाए। अमेरिकी द्वीपो के बारे में जानने के बाद कई यूरोपीय देशों में उन्हें आप उपनिवेश बनाने की होड़ लग गयी जिसमे ब्रिटैन स्पेन और फ्रांस सबसे आगे थे। आज के अमेरिका देश के पूर्वी हिस्से में ब्रिटिश लोगो ने अपनी अलग अलग 13 कॉलोनियां बसा ली थी जो ब्रिटिश झंडे के नीचे रह कर अपना शासन चलाती थी। इन 13 कॉलोनियों में इंग्लैंड के सिवाय यूरोप के अन्य लोग भी रहते थे। समय समय पर इन 13 कॉलोनियों के यूरोपियन लोगो का अमेरिकी मूल के निवाशीयोँ के साथ टकराव भी हुआ। जिसमे यूरोपियन लोगो मूल निवासियों को हराने में सफल भी रहे। ये कॉलोनियां 1607 से 1733 के बीच बसी थी।अमेरिका के पूर्वी क्षेत्र में बसी 13 कॉलोनियों के लोग ब्रिटिश सरकार की नीतियों से संतुष्ट नही थे और उन्होंने 4 जुलाई 1776 को अपने आपको एक स्वंत्र राष्ट्र घोषित कर दिया जिसे उन्होंने नाम दिया सयुंक्त राष्ट्र यानी यूनाइटेड स्टेट्स। लंबे युद्ध के बाद फ्रांस और इंग्लैंड की सरकारों ने इन 13 कॉलोनियों को यानि की यूनाइटेड स्टेट्स को एक अलग देश की मान्यता दे दी और इसी तरह जन्म हुआ विश्य के सबसे ताकतवर राष्ट्र यानि सयुंक्त राष्ट्र अमेरिका का।


1788 ईस्वी में सयुंक्त राष्ट्र ने अपने संविधान को लागू किया और जॉर्ज वाशिंगटन इसके पहले राष्ट्रपति बने। एक देश बनने के बाद अमेरिका ने पशिमी दिशा की तरफ अपना प्रसार बढ़ाना शुरू कर दिया। 1803 ईस्वी में उसने उत्तरी अमेरिका के बड़े भूभाग लुसीआना को फ्रांस से खरीद लिया और इस तरह संयुक्त राष्ट्र अमेरिका का क्षेत्रफल लगभाग 3 गुना हो गया। अमेरिकियों ने महाद्वीप के सभी मूल निवाशियो को खदेड़ दिया और मेक्सिको को युद्ध में हारने के बाद उसका क्षेत्र लगभग आज के जितना हो गया। अमेरिकी गृह युद्ध 1861 से 1865 के बीच अमेरिका के उत्तरी और दक्षिणी राज्यो के बीच लड़ा जाना वाला  भयंकर युद्ध था। यह युद्ध दास प्रथा को लेकर हुआ था जिसमे उत्तरी राज्य दास प्रथा को ख़त्म करने के हक़ में थे जबकि दक्षिणी राज्य ये नही चाहते थे। अमेरिका के उत्तरी राज्यो ने धीरे धीरे दास प्रथा को ख़त्म करने के कानून बना लिए थे जबकि दक्षिणी राज्य के गोरे लोग अफ्रीका से लाये काले लोगो को बराबर का हक़ देने के समर्थन में नही थे। दक्षिणी राज्य अमेरिका से अलग हो एक अलग देश बनाना चाहते थे।



1861 में अब्राहिम लिंकन ने अमेरिका के नए राष्ट्रपति बने  जो दास प्रथा को ख़त्म करने के हक़ में थे और साथ ही वे वो भी चाहते थे अमेरिका की एकता और अखंडता बनी रहे। दास प्रथा को लेकर 1861 में उत्तरी और दक्षिणी राज्यो के बीच एक भयंकर युद्ध शुरू हो गया। इसमें उत्तरी राज्य की अगवाई खुद अब्राहिम लिंकन ही कर रहे थे। लंबे युद्ध के बाद उत्तरी राज्य ने दक्षिणी राज्य को हरा दिया और इस तरह से अमेरिका में दास प्रथा ख़त्म हो गयी। गृह युद्ध के बाद पुनः अमेरिका में विकास और औधोगिकरण शुरू हो गया। इस समय के दौरान यूरोप के लोग आकार अमेरिका में बसे।  ये वो समय था जब अमेरिका विश्व पटल पर एक महान आर्थिक शक्ति बन कर उभरने लगा। अमेरिका के उत्तर में दक्षिण के मुकाबले ज्यादा विकास हुआ क्योकि वहा की भौगोलिक परिस्थितयां और यातायात के साधन बहुत ही विकशित हो चुके थे। कोयले और लोहे का उत्पादन बढ़ा और वहाँ पर बहुत से कारखाने काम करने लगे। रेल बिजली और टेलीफोन ने अमेरिका को विकशित होने में बहुत सहायता की और आज यह देश संसार के नक़्शे पर सबसे शक्तिशाली देश है।

Comments

Popular posts from this blog

दुनिया की खतरनाक पाच पर्जातिया

क्या आप सब यह जानते है की हमारी दुनिया में कितनी खतरनाक खतरनाक जीव की प्रजातियां पाई जाती है कुछ जीव तो देखने में बोहोत ही सरल और अच्छे दिखाई देते है पर बोहोत ही खतरनाक होते है तो में कुछ जीवो के बारे में आप सभी को बताता हूं 

1.ब्राजीलियन वेंडिंग स्पाइडर
यहां स्पाइडर साउथ अफ्रीका के घाने जंगल में पाई जाती है और गिनीस बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड के अनुसार इस मकड़ी को सबसे ख़तनाक मकड़ी माना जाता है और यह मकड़ी इतनी खतरनाक है यह अपने सिकार की तरफ बड़ी ही तेजी से जाती है और एक ही पल में अपने सीकार का खतामा कर देती है और यह मकड़ी अपने से तीन गुना जायदा बड़े सीकर को भी आसानी से मार देती है इसलिए इस मकड़ी को सबसे ख़तरनाक मकड़ी मानी जाती है.

2. पिराना फिश
इसके ईन नोकीले दातो की वजह से से ही इस मछली का नाम पिराना फिश रखा गया है इस मछली के यह दात किसी बिल्ड से कम नहीं होते है यहां दात इतने पेने होते है कि एक ही वार में किसी भी इन्सान के दो टुकड़े कर सकती है पिराना फिश समुन्दर या बड़ी नदी में बोहोत अधिक मात्रा में पाई जाती है और यह मछली अक्सर झुंड म सीकर करती है और आगर कोई सीकर इनके चुंगुल में फस जाता ह…

ज्ञान की सबसे अच्छी बात

ज्ञान की सबसे अच्छी बात

ज्ञान किसी व्यक्ति या किसी चीज़, जैसे तथ्यों, सूचनाओं, विवरणों या कौशल की परिचितता, जागरूकता या समझ है, जिसे अनुभव, शिक्षा, या सीखने के द्वारा अनुभव या शिक्षा के माध्यम से अधिग्रहित किया जाता है। ज्ञान किसी विषय की सैद्धांतिक या व्यावहारिक समझ को संदर्भित कर सकता है। यह अंतर्निहित (व्यावहारिक कौशल या विशेषज्ञता के साथ) या स्पष्ट हो सकता है (जैसा कि किसी विषय की सैद्धांतिक समझ के साथ); यह कम या ज्यादा औपचारिक या व्यवस्थित हो सकता है। ज्ञान के अध्ययन को महामारी कहा जाता है; दार्शनिक प्लेटो ने प्रसिद्ध रूप से "उचित सत्य विश्वास" के रूप में परिभाषित ज्ञान को परिभाषित किया है, हालांकि इस परिभाषा को अब कुछ विश्लेषणात्मक दार्शनिकों द्वारा उद्धृत किया गया है [उद्धरण वांछित] समस्याग्रस्त होने के कारण गेटियर की समस्याएं अन्यथा प्लैटोनिक परिभाषा की रक्षा करती हैं। हालांकि, ज्ञान की कई परिभाषाएं और सिद्धांतों को समझाने के लिए सिद्धांत मौजूद हैं।

आपकी सबसे प्रिय हिन्दी कविता कौन सी है?

मुझे सबसे अधिक हिंदी की दो कवितायें पसंद है | एक तो पुष्प की अभिलाषा जिसका उल्लेख अनेक उत्तरो में हुआ है, फिर भी मैं नीचे दोबारा लिखती हूँ : चाह नहीं मैं सुरबाला के गहनों में गूँथा जाऊँ, चाह नहीं, प्रेमी-माला में बिंध प्यारी को ललचाऊँ, चाह नहीं, सम्राटों के शव पर हे हरि, डाला जाऊँ, चाह नहीं, देवों के सिर पर चढ़ूँ भाग्य पर इठलाऊँ। मुझे तोड़ लेना वनमाली! उस पथ पर देना तुम फेंक, मातृभूमि पर शीश चढ़ाने जिस पर जावें वीर अनेक - माखनलाल चतुर्वेदी दूसरी कविता हैं, जो बीत गयी सो बात गयी| जीवन में एक सितारा था माना वह बेहद प्यारा था वह डूब गया तो डूब गया अम्बर के आनन को देखो कितने इसके तारे टूटे कितने इसके प्यारे छूटे जो छूट गए फिर कहाँ मिले पर बोलो टूटे तारों पर कब अम्बर शोक मनाता है जो बीत गई सो बात गई जीवन में वह था एक कुसुम थे उसपर नित्य निछावर तुम वह सूख गया तो सूख गया मधुवन की छाती को देखो सूखी कितनी इसकी कलियाँ मुरझायी कितनी वल्लरियाँ